क्राइम नागदा मध्य प्रदेश स्वास्थ्य 

खबरों का गुरु की खबर पर क्राइम ब्रांच ने लगाई मोहर।नागदा के अरुण नायर की काली करतूतों का बहुत जल्द हो सकता है पर्दा फाश।

33 Views

खबरों का गुरु की खबर पर क्राइम ब्रांच ने लगाई मोहर।नागदा के अरुण नायर की काली करतूतों का बहुत जल्द हो सकता है पर्दा फाश।

अरुण नायर क्राइम ब्रांच के पास 3 दिन के रिमांड पर सख्ती से पूछताछ हो तो नागदा प्रशासनिक अमले के कूछ कर्म जलो सहित कई सफेदपोश आ सकते हैं क्राइम ब्रांच के लपेटे में॥

नायर के पाप का घड़ा फुटा नागदा प्रशासन के रहमो करम
से बचा हुआ सलूजा का घड़ा भी अब फूटू-फूटू कर रहा,,,,,

नागदा का एसिड माफिया अरुण नायर चढ़ा क्राइम ब्रांच के हत्थे,,,,,

मंदसौर की शिवनाथ मय्या जैसी पवित्र नदियों के जल को जहरीला करने के गोरखधंधे के मगरमच्छ नागदा के अरुण नायर के पाप का घड़ा फुटा चुका है ये वहीं नालायक है जिसके कर्मों का बखान खबरों का गुरु न्यूज़ चैनल द्वारा समय-समय पर किया गया नायर नागदा प्रशासन की मक्कारी के कारण लंबे समय से फल फूल रहा था फिर भी खबरों का गुरु ने बीच-बीच में प्रशासन को इसके कर्मों का बखान समाचारों के माध्यम से किया था जिसको नागदा प्रशासन ने हल्के में लिया नागदा प्रशासन की गलती के कारण प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भी मीडिया के सामने शर्मिंदा होना पड़ा हालांकि खबरों का गुरु ने लगातार मामले को उठाया जिसके परिणाम स्वरूप नागदा का नायर नागदा प्रशासन से तो बच गया परंतु क्राइम ब्रांच से नहीं बच सका नागदा पुलिस तो कार्रवाई कर नहीं पाई परंतु कहते हैं कि जाको प्रभु दारुण दुख देही वाकी मती पहले हर लेही दुष्ट ने पेसो के लालच में इसी प्रकार का गोरखधंधा देवास तरफ भी जमा लिया था जिसका विरोध होने के बाद क्राइम ब्रांच ने इस मामले में एक्शन लेते हुए आखिरकार नायर को ढूंढ लिया अब तक मिले हुए समाचार के अनुसार नागदा का नायर नदियों में एसिड छोड़ने के गोरखधंधे में इन वाल है क्राइम ब्रांच ने विधिवत इसको गिरफ्तार किया है गिरफ्तारी के बाद इसे को कोर्ट में पेश किया गया था जहां से 3 दिन का रिमांड मिला है पूछताछ जारी है अब यदि क्राइम ब्रांच सख्ती से पूछताछ करें तो और भी कहीं सफेदपोश नेताओं के साथ-साथ नागदा प्रशासन के कुछ करम जले कर्मचारी भी इस गोरखधंधे में नायर के साथ साथ चपेट में आ सकते हैंॽशायद इसीलिए लंबे समय से नायर नागदा पुलिस से बचता रहा अब क्राइम ब्रांच को लगे हाथ सलूजा और सलूजा से जुड़े लोगों के बारे में भी पूछताछ कर लेना चाहिए ताकि आने वाले समय में कोई भी मां शिवना जैसी नदियों के जल को जहरीला ना कर सके ये खबर उन कर्म जलो के लिए भी महत्वपूर्ण है जो बार बार खबरें लगाने के बाद कार्रवाई नहीं होने पर मिडिया को चिढ़ाते हुए बोलते हैं क्या होता है खबर लगानें से।

हमारे पास नागदा मैं इन एसिड माफिया नदी को बर्बाद करना प्रकृति के साथ खिलवाड़ करने वाले जीव जंतु वह मानव जीवन को खतरे में डालने वाले इन अपराधियों के एसिड ढोलने के विषय पर कई सबूत मौजूद

रिपोर्ट शैलेंद्र सोनी मंदसौर जिला ब्यूरो

Related posts

Leave a Comment

error: Content is protected !!